Essay on terrorism

Essay on terrorism in hindi आतंकवाद पर निबन्ध

Essay on terrorism in hindi  आतंकवाद पर निबन्ध

 

Essay on terrorism  हेल्लो दोस्तों, आज के इस लेख में हमने कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 के छात्रों के लिए आतंकवाद पर निबन्ध प्रस्तुत किया है. मैं उम्मीद करता हूँ कि इस निबंध से सभी छात्रों को फायदा मिलेगा।  हमने   terrorism पर निबंध  को छात्रों के फायदे को देखते हुए इस पर निबंध लिखा है.  terrorism पर निबंध पढ़ कर आप को कैसा लगा हमें कमेन्ट में जरुर बताएँ.

आतंकवाद  क्या है What is  terrorism

आतंकवाद का अर्थ – आतंकवाद दो शब्दों से मिल कर बना है। आतंक + वाद। आतंक का अर्थ है डर या भय और वाद का अर्थ है – पद्धति।

आतंकवाद हिंसा का एक गैर-कानूनी तरीका है जो लोगो को डराने के लिए प्रयोग किया जाता था। आतंकवाद केवल एक शब्द मात्र नही है क्योंकि यह मानव जाति के लिए बहुत बड़ा खतरा है, जिसको मनुष्यों ने खुद निर्मित किया है।

अगर हम आसान भाषा में कहे तो जब कोई व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह मिलकर किसी स्थान पर हिंसा फैलेयें, दंगे फसाद, लोगो का अपहरण, लोगो को सरे आम गोली से मारने, बम बलास्ट करता है। इसे आतंकवाद और ऐसे काम करने वाले लोगो को आतंकवादी कहते है।

आतंकवाद की सीमा कोई एक राज्य या देश नही है। आज ये अंतरराष्ट्रीय समस्या के रूप में आगे आ रहा है। जब कोई दो देश आपस में लड़ते है तो उसका समाधान करने के लिए वो आपस में बातचीत के द्वारा मामले को सुलझा लेते है। लेकिन आतंकवाद के समाधान के लिए कोई हल नही है।

इसे भी पढ़ें – Essay on GST   जी.एस.टी. पर निबंध

आतंकवाद का मुख्य कारण  cause of terrorism

आतंकवाद के बढ़ने के कई सारे कारण है जिनमे से कुछ मुख्य कारण इस प्रकार है-

1- गलत संगति

जैसा की हम सब जानते है कि आतंकवादी आप हम जैसे ही लोग ही होते है, लेकिन कमी केवल उनकी और हमारी सोच में होती है, वो गलत लोगो की संगत में आ जाए है और उनकी गलत शिक्षा के कारण वो आतंकवादी बन जाते है और सिनेमाघरों, रेलगाड़ियों, भीड़-भाड़ वाले इलाकों में बम विस्फोट के कारण हजारों लोगो की मृत्यु हो जाती है । रेल अथवा वायुयान में अपने गंतव्य की ओर बढ़ते यात्रियों की यात्रा बम के धमाके के साथ ही समाप्त हो जाती है।

2- ब्रेन वाश brain wash

आतंकवाद का बढ़ने का मुख्य कारण brain wash भी है। इसमें आतंकवादियों द्वारा लोगो के brain wash के द्वारा लोगो को बताया जाता है कि ये नेक काम इससे तुमको जन्नत प्राप्त होगी। जब लोगो ऐसे लोगो के साथ जुड़ जाते है जो लोगो को brain wash करते है।

वो धीरे धीरे आप का brain wash कर देंगे और आप आप भी बाकी लोगो की तरह उनकी आतंकी समूह में शामिल हो जाते है।  ऐसे लोग जो brain wash करते है वो ज्यादातर बच्चों को ही चुनते है क्योंकि उनको सही और गलत की पहचान नही होती है और वो अपना काम आसानी से कर लेते है।

3-  शिक्षा की कमी

आतंकवाद बढ़ने के  प्रमुख्य कारण शिक्षा है। जब व्यक्ति के पास शिक्षा की कमी होती है, तो उसको गलत काम करते हुए जरा भी महसूस नही होता कि वो गलत काम कर रहा है। आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले लोग अशिक्षा का फायदा उठाते है। और अशिक्षित लोगो को अपने समूह में शामिल कर लेते है और उनका brain wash करके उसने अपना काम निकलवा लेते है।

 

आतंकवाद के उत्पन्न होने के और भी कई कारण है जैसे भुखमरी, बेरोज़गारी, गरीबी, धार्मिक उन्माद आदि। आतंकवाद को ज्यादा प्रोत्साहन धार्मिक कट्टरता के कारण मिलती है। लोग धर्म के नाम पर एक दूसरे का गला काटने में पीछे नही हटते है। इसी के कारण हिन्दू- मुस्लिम, हिन्दू- सिख, , मुस्लिम आदि धर्मों नाम पर लोग बड़े बड़े दंगे–फसाद शुरू कर देते है।

आतंकवाद के कारण आज जीवन अनिश्चित हो गई है क्योंकि आप के साथ कभी भी कुछ भी हो सकता है। हमारे दिमाग में ये बात तो अवश्य आती है आखिर आतंकवाद का उद्देश्य क्या है?  आतंकवादियों को क्या मिलता है ऐसे कुकृत्य कर करके? तो मैं ये कहना चाहता हूँ इसका उत्तर बहुत ही आसान है।

आतंकवादियों का केवल एक उद्देश्य है और वो ही आतंक फैलाना। इससे उनको कुछ मिलता नही है लेकिन वो इससे अपने संगठन का नाम बढ़ाते है और लोगो में अपने संगठन के नाम का खौफ देखना कहते है।

 

इसे भी पढ़ें – Essay on Air Pollution in hindi वायु प्रदूषण पर निबंध

आतंकवाद का प्रभाव ( effect of terrorism )

आतंकवाद का मुख्य उद्देश्य सामाजिक और राजनैतिक सिस्टम को नुक्सान पहुँचाना। इसका असर ज्यादातर आम नागरिकों पर होता है। इससे लोगो के अंदर डर पैदा हो जाता है और अपने घरों से भी निकलने में हिचकिचाते है और घर से निकलते हुए ये सोचते है की वो घर वापस आ भी पाएंगे या नहीं

  1. आतंकवाद के कारण लोगो के बीच आपसी भरोसा उठ जाता है और लोग जल्दी किसी भी अजनबी से बात करने के लिए तैयार नही होते है। क्योंकि लोगो को किसी के ऊपर से भरोसा उठ गया है।
  2. आतंकवाद का सबसे बड़ा प्रभाव लोगो को लाखों की संपत्ति और लाखों मासूम लोगो की जान चली जाती है। और इससे लोगो का सरकार से भरोसा उठ जाता है।
  3. इससे बहुत सारे जीव जंतु भी मारे जाते है।
  4. आतंकवाद के कारण लोगो में डर पैदा हो जाता है और वो अपने राज्य, देश में असुरक्षित महसूस करता है और बहुत बार इससे उस देश की सरकार भी गिर जाती है क्योकि लोगो का सरकार से भरोसा उठ जाता है।

 

भारत में आतंकी हादसे Terroism Attack in India

हमारे प्यारे भारत में अबतक कई बार आतंकी हमला हुआ है। जिनमे से कुछ गंभीर हादसे भी है जैसे –

  1. 2001 में देश के सबसे सुरक्षित इमारत संसद भवन में दिदं दहाड़े आतंकी घुस गए। लम्बी मुठभेड़ के बाद पुलिस कर्मियों में आतंकियों को मार गिराया।
  2. 2008 में मुंबई के ताज होटल में हुए आतंकवादी हमला में पाकिस्तान आतंकवादी

मुंबई हमले नवंबर 2008 में हुए आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का एक समूह का हाथ था। जो  26 नवंबर को शुरू हुआ और शनिवार, 29 नवंबर 2008 तक चला। जिसमे  164 लोगों की मौत हो गई और कम से कम 308 घायल हुए।

 

भारत में आतंकवाद अटैक की सूची धीरे-धीरे बढती जा रही है। क्योकि आये दिन आतंकवाद अटैक हुआ करते है जिसमे जिहाद के नाम पर नासमझ लोग, छोटी उम्र के बच्चों को गलत शिक्षा के चलते आज आतंकवाद जैसे मुद्दे सामने आ रहे है।

इसे भी पढ़ें – ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध essay on global warming in hindi

आतंकवाद की समस्या से निदान( Solution of Terorism)

आतंकवाद जैसी बड़ी समस्या से निपटने के लिए दुनिया भर में 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जाता है। इस समस्या से निपटने के लिए केवल एक देश काफी नही है, इसके लिए दुनिया भर के सभी देशो को सामने आना पड़ेगा और आतंकवाद जैसी बड़ी समस्या से लड़ने की जरूरत है।

Essay on terrorism
Essay on terrorism

आतंकवाद को दूर करने के लिए हमें सबसे पहले लोगो को शिक्षित करने की जरूरत है। क्योंकि जब लोग शिक्षित होंगे तो वो ऐसे घिनौने काम को नही करेंगे।

हमें आतंकवाद को कम करने के लिए धर्म को सही ढंग से समझने की जरूरत है। लोग जाति धर्म के नाम पर एक दूसरे का खून बहाते है। लेकिन हमारा धर्म हमें ये शिक्षा नही देता है। हमें अपने धर्म की अच्छी शिक्षा लेने की जरूरत है। जिससे हम धर्म के नाम पर आतंकवाद जैसे समस्या को बढ़ावा ना दे।

 

 

6 thoughts on “Essay on terrorism in hindi आतंकवाद पर निबन्ध”

Leave a Comment